घा’यल होने के बावजूद भी आ’तंकि’यों से ल’ड़ते रहे थे जाकिर हुसैन, इस अदम्य साहस के लिए मिला शौर्य चक्र

ज’म्मू क’श्मी’र के बा’रामु’ला में आ’तंक’वा’दि’यों को मा’र गि’राने में अहम भू’मिका निभा’ने वाले सीआ’रपी’एफ के जां’बाज सि’पा ही जाकिर हुसैन को बीते दिनों ही शौ’र्य च’क्र सभी स’म्मा’नित किया गया है । जा”किर हुसै’न उस टीम का हि’स्सा थे जिसने सितंबर 2018 में एक म’का”न के पी’छे छि’पे

जै’श ए मो’हम्मद के तीन आंत’कवा’दियो को भी मा’र गिरा’या था। गो’ली लग’ने के बाव’जूद भी वह उस ज’गह पर ऐसे ड’टे रहे जब तक कि वह आ’तं’वा’दि’यों ढे’र न’ही हुए। जान का’री के मुता’बिक बता दे कि 13 सितंबर 2018 को 10 बजकर 55 मिंट पर धरती गांव के एक मकान में तीन

वि’दे’शी आ’तं’क’वा’दि’यों के छि’पे होने की भी सूच’ना मिली थी। इसके बाद सीआ’रपी’फ की एक टीम आ’तंक’वा’दि’यों से मुकाबला करने के लिए निकल भी पड़ी थी। जिसमे कॉ’न्स्टेबल जाकिर हुसैन भी शामिल थे। ए’न’का’उं’टर के दौरान आ’तं’क’वा’दि’यों ने सी’आ”र’पी’ए’फ की टीम पर ह’म’ला भी कर दिया

और गो’ला’बा’री भी शुरू कर दी। सीआ’र’पीए’फ की टीम ने आ’तं’कि’यों पर ज’वा’बी ह’म’ला भी किया। टीम में शा’मिल उप’क’मंडे’ट हर्षपा’ल सिंह के साथ मिलकर जा’किर हुसैन ने आ’तं’कवा’दियों को मुह’तोड़ जवाब देना भी शुरू कर दिया। इस मुठभेड़ में एक आ’तंक’वा’दी भी मा’रा गया था।

zakir hussain shaurya chakra news 2021

वही अन्य दो लोग घा’य’ल भी हो गए। जाकि’र हुसै’न और हर्षपा’ल सिं’ह को भी गो’ली लगी। जिसके बाद उन्हें अ’स्प’ता’ल में भ’र्ती भी कराया गया। कांस्टेबल जाकिर हुसैन की इस अप्रतितम वीरता को देखते हुए उन्हें राष्ट्र’पति राम’नाथ कोविंद ने बीते दिनों ही शौ’र्य च’क्र से सम्मा’नित भी किया गया है।

Leave a Comment

close