About Us

Muslmanehind News

पत्रकारित्रा की भूमिका आज सबसे महत्वपूर्ण इसलिए भी कही जाती है क्योकिं इसे सविंघान का चौथा स्तम्भ कहा जाता है। अगर सच्ची पत्रकारिता हो तो ये किसी भी देश के उत्थान और प्रगति में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। आज जबकि मिडिया की ज्यादा जरुरत है , तो उसे जनता के प्रति जिम्मेदार होना चाहिए , ना कि सत्ता के प्रति जिम्मेदार रहें।

मीडिया को ऐसे समय में जब मेन स्ट्रीम मिडिया पत्रकारिता के बदले पक्षकारिता के धंधे में लिप्त है। आज सोशल मीडिया की जिम्मेदारी महत्वपूर्ण हो चली है क्योकिं यही जनता की पत्रकारिता का मंच है। अब वो जमाना गया जब मेन स्ट्रीम मीडिया झुठी खबरें दिखाती रहें। हम और आप उसे सच मानने को मजबूर हो।

अगर हम सोशल मीडिया की बात करें तो यहाँ भी झुठी खबरों का फरेब कोई भी कर सकता है लेकिन यहाँ फरेब ज्यादा देर नही चलता हैं। इसलिए हम इसे जनता की मीडिया मानते हैं। आप बस सोशल मीडिया की ताकत बढ़ाते रहें। जनता से फरेब करने वाले यू ही जमीन्दोज़ हो जाएँगे। ये बात भी तो सच है कि झुठ के पाँव नही होते हैं। सोशल मीडिया इसी भरोसे को तो बढ़ा देता है और जनता को मजबूती देता हैं।

लेकिन देश का दुर्भाग्य ये है की मेन स्ट्रीम मीडिया टीआरपी बढ़ाने के लिए दिन रात एक किए हुए। जबकि देश की अधिकतर जनता गाँवों में बसती है उन्हें पूछने वाला कोई नही है। फिल्मी दुनिया , अमीरों की जिन्दगी और दूसरे अन्य मुद्दों को दिखाना एक खत्म ना होने वाली प्रक्रिया है। शायद इसमें कही ना कही हम भी दोषी हैं क्योकि हम ये सब पसंद करते हैं।

आज किसान , दलित , मजबूर , युवाओं की समस्या सुनने वाला कोई नही है और देखने वाला भी। लगता है मेन स्ट्रीम मीडिया की इसमें दिलचस्पी नही है।  उसके दोषी सभी है क्योकिं हम भी इसमें रुची नही लेते है। मेन स्ट्रीम मीडिया टीआरपी के पीछे भाग रही है बस यहीं से हमारी भूमिका शुरु होती है। हम उनकी आवाज बनना चाहते है जिनकी आवाज नही सुनी जा रही है। चाहे दबे कुचले , किसान , मजदूर या यूवा हो यहाँ पर आने के बाद आपको कही भटकने की जरुरत नही हैं क्योकि यहाँ पर हर तरह की खबरों का संगम होगा।

Editor Muslmanehind News

admin@muslmanehind.com

close