सऊदी अरब मचाएगाा संगीत की दुनिया में धमाल, जाहिदा अल खालिदा बनी सऊदी संगीत आयोग की CEO

सऊदी से एक बड़ी खबर सामने आ रही है । बता दे, सऊदी अरब मिशन 2030 में लगा हुआ है, जिसके मुताबिक वो दुनिया भर के ज्यादा से ज्यादा पर्यटकों को सऊदी अरब में लाना चाहता है , ताकि वो भी विकास सहित दूसरे मामले में बाकी के देशों को टक्कर दे सके। इसी कड़ी में सऊदी अरब ने महिलाओं को आज़ादी देने के मामले में कई ऐसे फैसले किए जिसने सभी को चौका दिया है ।

अब सऊदी से एक और चौ’काने वाली खबर आ रही है । सऊदी अरब के संस्कृति मंत्री प्रिंस बदर बिन अबुल्ला बिन फरहान संगीत को बढ़ावा देने के लिए एक अहम कदम उठाया है । सऊदी के संस्कृति मंत्री ने सऊदी की संगीतकार जिहाद अल खालीदी को संगीत आयोग का सीईओ नियुक्त किया है । बता दे, अल खालिदी को संगीत का 33 वर्षों का अनुभव है। उन्होंने आठ साल मिस्र के आर्केस्ट्रा में वायलिन वादक के रूप में कार्य किया है ।

जाहिदा के पास संगीत का अनुभव और प्रशासनिक ज्ञान के साथ साथ काहिरा में उच्चतर संगीत संस्थान से वायलिन वादक और संगीत सिद्धांत में डिग्री भी ली है . जिहाद को जब सऊदी संगीत आयोग का CEO बनाया गया तो उन्होंने कहा कि भावनाओं का वर्णन करना कठिन है, उन्होंने सऊदी के मंत्री का भी आभार व्यक्त किया है।

उन्होंने इसे एक सपना बताया है और कहा कि ये एक सपने के सच होने के जोंस है । उन्होंने कहा कि अब मेरे लिए चुनोती है कि कैसे सऊदी अरब में संगीत निर्माण करें। अरब न्यूज़ से बात करते हुए ख़लीदा ने कहा कि देश में संगीत सीखना बेहद बुनियादी कदम होता है। संगीत स्कूली शिक्षा में ऐड करना जरूरी है । ख़लीदा ने साफ किया कि आज के समाज मे संगीत को अलग नजर से देखा जाता है ।

अल खालिदी ने साफ किया कि हमने जन्म से लेकर 6 साल , 6-17 साल के बच्चों को और विश्वविद्यालयों के छात्रों को अलग अलग संगीत सिखाने का निर्णय लिया है । उन्होंने कहा कि हम आने वाले समय मे इसी पैटर्न पर काम करेंगे, जो आना चाहता है आए और जो पीछे छूटना चाहते है वो नही सीखने पर पीछे छूट जायेगे । उन्होंने कहा कि हम अपना समय बर्बाद नही करेंगे । हम सऊदी अरब में संगीत की दुनिया मे निर्माण करना चाहते है ।

और हम इसके बुनियादी ढाँचे को सही करने की कोशिश में लगे हुए है । उन्होंने कहा कि इसके लिए एक बेहतर प्लानिंग और गहन अध्ययन की जरूरत है । खालिदी ने कहा कि सऊदी अरब अब सभी स्तरों पर विकास चाहता है, इसके लिए सभी जरूरी कदम उठाने की बात कही जा रही हे।

सऊदी अरब ने महिलाओ को सिनिमा घर जाने, ड्राइवर बनने और बिना पति के विदेश में इलाज कराने जैसे कामों में झूट दी थी । बीते दिनों, सऊदी अरब में पब की तस्वीरें और वीडीओ वायरल हुई थी । वही ताश के पत्ते की तरह दिखने वाले एक खेल में भी सऊदी अरब के इतिहास में महिलाओ और पुरुषों ने साथ गेम खेला था ।

Leave a Comment

close