असदुद्दीन ओवैसी बोले- मेरी मस्जिद शहीद हो गई और आंखे मूंदे रहीं सपा-बसपा-कांग्रेस

Aimim राष्ट्रीय अध्यक्ष अ’सदु’द्दीन ओवै’सी ने बीते दिनों ही कानपुर में जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाज’पा सर’कार पर ह’म’ला करते हुए मेरी मस्जि’द बाब’री शही’द हो गई, जिन लोगो ने इसे क’लं’कि’त किया है। उन्होंने भार’त की नीं’व औ का’नून को शा’स’न को बाधि’त करने का काम किया है।

क्या सपा बसपा में से किसी ने कुछ नही कहा। उन्होंने आंखे मूड ली है। क्योकि यह मेरी म’स्जि’द थी उनकी नही। इस।दौरान उन्होंने सपा औरसो’लंकी प’रिवार को नि’शा’ने पर भी रखा है। उन्होंने सी’ए ए और ए’नआ’रसी में हुए ब’वा’ल के दौरान 4 लोगो की मौ’त, कि’दवई नग’र, उन्ना’व और

कास’गंज में हुई मु’स्लि’मो की मौ’त को लेकर सर”कार को क’ट’घरे में खड़ा किया है। सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि ओ’वै”सी ने कहा कि प्रदे’श में मुस्लिमो की 19 फीसदी आ’बादी होने की बा व’जू’द होने एक भी लीडर नही है । उनमें से एक भी डि’प्टी सी’एम नही हुआ। मु’स्लि’मो को अपनी हिस्से’दारी के लिए लड़ाई

लड़’नी होगी। इसके लिए लीड’रशिप बना’नी होगी। उन्होंने कहा कि किसी भी राज’नैति’क दल को मु’स्लि’मो की चिं’ता न’ही है। मु’स्लि’मो की जा’न की कोई कीमत नही है। मु’स्लि’म किसी राज’नीतिक दल का कैदी नही है वह अपना फैस’ला खुद कर सकता है ।

इसके लिए चु’ना’व में एक’जुट होमर वोट की ता’कत को दिखाना होगा । अपना नेतृत्व खु’द बना’ना होगा। उन्होंने कहा कि अखि’लेश या’दव ने आझम खान के लिए कुछ भी नही कहा। सपा का सब’से बड़ा मं’त्री जेल में है। इसके अला’वा अती’क अहमद गुज’रातकी जे’ल में है उनसे मिलने नही दिया गया

Leave a Comment

close