सऊदी अरब और कतर ने बैंकिंग सेक्टर में रचा इतिहास, सऊदी बना नंबर-1 तो एशिया में कतर ने मारी बाजी

हर दिन कोई न कोई देश और किसी भी रेंकिंग के बारे में लिस्ट जारी होती रहती है। हाल ही में द एशियन बैंकर के मुताबिक एक अंग्रे’जी भा’षा का प्रकाशन जो फाइनेंशियल टाइम्स की सहायक कम्पनी है। वह हर साल ही मासिक अंतराष्ट्रीय वित्तीय समाचार औरदुनिया के

शीर्ष बैंकों की सूची में प्रकाशित होता रहता है। आपको बता दे कि अलराजेहि सऊदी अरब ने 2020 में 125 बिलियन डॉलर की कुल सम्प’त्ति के साथ दुनिया के सबसे बड़े और सबसे श’क्ति’शाली है। इनमें शीर्ष 10 इ’स्ला’मि’क बैंकों में सऊदी अरब देश से

तीन बैंक, तीन कतर से, दो तुर्की से एक कुवैत और पा’कि’स्तान से ह। अल रांझी बेंक ने अधिंकांश संकेतो में मजबूत प्रदर्शन किया और इसके अलावा सम्पत्ति क्षेत्र में 22 फीसदी की व्रद्धि को दर्ज किया है। इस्ला’मि’क बैंक ऑफ कतर 2021 में एशियाई बैंकों

की रैंकिंग में सबसे मजबूत कत री बैंक और दुनिया का सबसे शक्तिशाली इस्लामिक बैंक उभर कर आया है। बैं’कों के प्र’दर्श’न का आकलन 6 प्रमुख संकेतो के माध्यम से किया जाता है। जिसमे झ’कल घरे’लू उत्पाद और जमा’राशि’यों के लिए बैंको की सम्प’त्ति का पैमाना, बैंक के सं’चलन का जो’खि’म प्र’ब’न्धन और

लाभप्रदा शामिल है। मिजान बैंक ऑफ पाकि”स्तान, बैंक ऑफ इस्लाम और मलेशिका के बैंक ऑफ इ’स्ला’म पूर्वी एशि’या के शीर्ष तीन इ’स्ला’मि’क बैं’क है। इस साल की एशियाई बैंक संस्थान रेंकिंग में 25 देशों के बैंकों की जांच की जाती है।

Leave a Comment

close