CAA : हिन्दू महिलाएँ प्रदर्शकारियों के लिए औरंगाबाद में ला रही खाना बनाकर,एकता की मिसाल पेश की

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में ना’गरिकता का’नून के खि’लाफ प्रदर्शन कर रही मु’स्लिम महि’लाए सड़को पर उतर आई है। ऐसे तो दिल्ली के शा”हीन बाग की तर्ज पर देशभर के कई राज्यो की महि’लाएं सड़को पर है । उसमें राजस्थान , एमपी , दिल्ली , यूपी , पंजाब , गुजरात से लेकर पश्चिम बंगाल का नाम है ।लेकिन नागरिकता का’नून के खिला’फ चल रहे प्रदर्शन में मुस्लिम ही नही बल्कि हर ध’र्म के लोग प्रदर्शन कर रहे है ।

बता दे, कई प्रोटेस्ट में हि’न्दू मु’स्लिम एकता साफ देखा जा सकता है । हमारे देश मे अभी भी भाई’चारा जिं’दा है इसी भाईचारे को जिं’दा रखने के लिए औरं’गाबाद में हिन्दू औरतें प्रदर्शन’कारियों महि’लाओं के लिए घर से खाना बनाकर लाती है। महि’लाओं को खाना खिलाती है। हि’न्दू महिला’ओं ने मु’स्लिम महि”लाओं के लिए खाने के इंतजाम की जिम्मेदारी ली है। इससे पहले मुम्ब’ई में संवि’धान बचाओ रैली आयोजित की गई थी।

इस रैली में बड़ी ता’दात में भी”ड़ थी। मुम्बई का आजाद मैदा’न भीड़ से भ’रा हुआ दिखाई दिया। यहां भी कई स्पीक’र्स हि’न्दू ध’र्म से रिलेटेड थे । इस रैली को सम्बो’धित किया कई फिल्मी सितारों, सामाजिक संग”ठनों ने किया था। फ़िल्म अभिनेता सुशांत’सिंह ने इस प्रदर्श’न स्थ’ल पर एक कविता भी पड़ी थी। उन्होंने कहा कि क्या कह सकते है हवा में पहले ही इतना जहर है।

कैसे पता चलता है कि आज का ये धुं’आ क’हर है। सुशांत सिंह ने आगे कहा था कि आग बुझी नही है अभी, इससे पहले हवा और ग’र्म हो जाए। इसे बु’झाना होगा,आ’दम’खोरों से मु’ल्क बचा’ना होगा। दिल्ली के शाही’नबाग में 2 महीने से अधि’क समय से इस कानू’न का वि’रोध हो रहा है । दिल्ली के शाहीन’बाग में सि’खों का कारवां भी प्रद’र्शनका’रियों के साथ एक’जुट हुआ था।

इसके अलावा किसा’नों का संग़ठन भी वहां पर मौजूद हुआ था।इसके अलावा लखनऊ के घण्टा”घर, अलीगढ़ के भुजपुरा, प्रयागराज, आज’मगढ़, रायब’रेली, राजस्था’न और का’नपुर आदि जगहों पर इस का’नून के खि’लाफ शाहीन’बाग बन गया है। महिलाए अनिश्चि’कालीन धरने पर बैठी हुई है।

Leave a Comment

close